nav-left cat-right
cat-right

Director Alok Shrivastava’s DARD E TANHAAI Music Video Gets 3 Million+ views in 2 days Album Released by Panorama Music...

Mr. Alok Shrivastava says “ it was a wonderful experience working with Panorama Music and its incredible team like Mr. Rajesh B Menon , Mr. Murli Chatwani , Mr. Jameel and Mr.  Chandrasekhar. Now a days new and upcoming talent invest lots of efforts and money to make a music video and finally they end up either showcasing it on a lesser known music channel or on their own YouTube channel except a few who are well connected with the racket companies.

But in my case after directing Hindi feature films I got an opportunity to write and direct “ Dard E Tanhaai” a music video with music composer Nikhil featuring debutant Namrata Sharma, Ashmit Shrivastava and Mandeep Gujjar of Roadies fame. Since this is my second lyrics after my directed and produced film ‘End Counter’ I tried my best to put my heart and soul into the song. Finally after the video was shot I started looking for a known music platform who can promote and do justice to the music video. By the blessings of almighty and our hard and sincere efforts I was introduced to Panorama Music by Mr. Nikhil.

They saw the video and immediately decided to launch it on their reputed channel. For me the cake was cut and finally it released with bumper response on Panorama Music Channel. I am grateful to the team of Panorama Music for promoting and distributing the music video in the best possible way. Moral of the story is that still there are music companies who are ready to welcome the new talent provided they like the artwork of the artist.

Also I am thankful to my friend Nikhil for lending his support by working hard on the song composition and the result is in front of us. Yes if I like the song whether it be written it by me or any other lyrics writer I will definitely direct it.

Miss Masala Dosa a Hindi feature Film is ready for release says director Alok Shrivastava

Dilip Sethi(Online News Reporter)

Director Alok Shrivastava’s DARD E TANHAAI Music Video Gets 3 Million+ views in 2 days Album Released by Panorama Music

लता दीदी के लिए बनाई गई अनूठी कला संग्रह को किया दान ! CPAA कैंसर से जूझ रहे बच्चों के जीवन को संवारने में। समाजसेवी डॉ. अनिल काशी मुरारका की ये अनमोल श्रधांजलि !...

भारत रत्न और अमर स्वर कोकिला स्वर्गीय लता मंगेशकर आज हमारे बीच नही हैं। लेकिन लता दीदी का अहसास हर दिल मे है और सदा रहेगा। उनके कार्य और गीतों को ब्रम्हांड और ये जग ताउम्र तक याद करता रहेगा। हर कोई अपने ढंग से दीदी को श्रधांजलि दे रहा हैं। और इस बार समाज सेवी डॉ. अनिल काशी मुरारका को एक नेक कोशिश, सच्चे इंसानियत का परिचय देती हैं ।

जी हां, लता दीदी को जो कला संग्रह भेंट करना चाहते थे वो इच्छा तो अधूरी रह गयी लेकिन दीदी के लिए संग्रहित की कला को डॉ. अनिल , कैंसर से जूझ रहे बच्चों के जीवन को बनाने में दान दे दिए। इससे अच्छी श्रधांजलि और कुछ हो सकती हैं।

अनिल काशी मुरारका ने भारत रत्न लता मंगेशकर की कला के 35 कार्यों को कैंसर रोगियों की सहायता के लिए कलाकार राज सैनी को कैंसर रोगी सहायता संघ को दान कर दिया है।

मुरारका की कृतियों को साढ़े तीन साल से भी अधिक समय से सावधानीपूर्वक तैयार किया गया है।  मुरारका ने खुलासा किया, “मैं दीदी को उपहार देना चाहता था लेकिन यह मेरा दुर्भाग्य है कि मैं इसे उनके चरण कमलों में पेश नहीं कर सका। अगली सबसे अच्छी बात कैंसर बच्चों के जीवन को रोशन करना है मेरी सबसे बड़ी पहल हैं।”

सीपीएए की कार्यकारी निर्देशक अनीता पीटर उत्साहित हैं और वो कहती हैं कि”हम डॉ. अनील काशी मुरारका की अद्भुत पहल से बहुत उत्साहित थे। हम सीपीएए में, मेक अर्थ ग्रीन अगेन मेगा फाउंडेशन के साथ अपने मरीजों और प्रसिद्ध गायकों के साथ एक संगीत कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बना रहे हैं, जहाँ हम पेंटिंग की नीलामी भी रखेंगे। हम इस घटना को जल्द ही एक वास्तविकता बनाने के लिए काम कर रहे हैं। हमें डॉ अनील काशी मुरारका जैसे और लोगों की जरूरत है इस नेक कार्य को अंजाम देने के लिए ” ।

———-Naarad PR and Image Strategists,

Anusha Srinivasan iyer: 9820535230, 9028798374

Siddhant: 9833775230

Vedant: 89285 55529

Donated  a unique art collection made for Lata didi –  CPAA in shaping the lives of children battling cancer  This priceless tribute of social worker Dr Anil Kashi Murarka

Director Shamas Siddiqui Indulges In High Octane Boxing Session Amidst His Choc-O-Block Schedule...

Director Shamas Nawab Siddiqui, who is awaiting the release of his feature directorial debut Bole Chudiyan has now been indulging himself into an extensive boxing training between his packed schedules.

Shamas Siddiqui shares, “I am really thrilled to resume boxing training again. I had won several competitions during my college days in Dehradun but couldn’t continue it due to my passion for filmmaking. Currently, I am improving my strength and technique.”

Besides Bole Chudiyan, Shamas was in the news recently for his short film Zero Kilometres which is doing the rounds across the International film festivals. He has other short and long-format projects also to release in 2022.

  

Director Shamas Siddiqui indulges in high octane boxing session amidst.

Global Kayastha Conference Presentation on the occasion of Rakshabandhan Bandhan Sneh Ka...

रक्षाबंधन के अवसर पर ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस की प्रस्तुति ‘बंधन स्नेह का’

नयी दिल्ली, 22 अगस्त ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) कला संस्कृति प्रकोष्ठ के सौजन्य से भाई- बहन के अटूट स्नेह को प्रदर्शित करने वाले त्योहार रक्षाबंधन के अवसर पर वर्चुअल कार्यक्रम ‘बंधन स्नेह का’ का आयोजन किया गया, जिसमें देशभर के लोगों ने सहभागिता की एवं एक से बढ़कर एक प्रस्तुति देकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।

जीकेसी कला-संस्कृति प्रकोष्ठ के वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और कार्यक्रम के संयोजक प्रेम कुमार ने बताया कि बंधन स्नेह का कार्यक्रम में बिहार, महाराष्ट्र, झारखंड,छत्तीसगढ़, राजस्थान, आसाम, कर्नाटक और मध्यप्रदेश समेत देश भर के कई लोगों ने शानदार प्रस्तुति दी। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम को जीकेसी कला- संस्कृति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय महासचिव पवन सक्सेना और राष्ट्रीय सचिव श्रीमती शिवानी गौड़ ने होस्ट किया।

कार्यक्रम के सफल संचालन में डिजिटल-तकनीकी प्रकोष्ठ के ग्लोबल अध्यक्ष आनंद सिन्हा,डिजिटल- तकनीकी प्रकोष्ठ के ग्लोबल महासचिव सौरभ श्रीवास्तव ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन का पर्व भाई-बहन के बीच प्यार, स्नेह और परस्पर विश्वास का प्रतीक है। भाई बहन के पावन रिश्तों के पर्व को रक्षा बंधन का त्यौहार माना जाता है।

जीकेसी के ग्लोबल अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि रक्षा बंधन का पर्व भारतीय संस्कृ्ति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा है। पौराणिक काल से लेकर आधुनिक काल तक विभिन्न अवसरों पर रक्षा बंधन का त्यौहार मनाए जाने तथा इसके महत्व का उल्लेख मिलता है। रक्षा बंधन का त्योहार भाई-बहनों के बीच प्यार और सम्मान के बंधन का जश्न मनाता है और उनका सम्मान करता है।

जीकेसी की प्रबंध न्यासी श्रीमती रागिनी रंजन ने कहा कि रक्षाबंधन का त्यौहार भाई-बहन के पवित्र और प्रगाढ़ प्रेम का प्रतीक है। यह सभी धर्मों का, सभी वर्गों का साझा त्यौहार है।

जीकेसी कला-संस्कृति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष देव कुमार लाल ने कहा कि यह त्यौहार परिवार एवं समाज में आपसी भाई-चारे को सुदृढ़ करता है। प्रदेश एवं देश में शांति, सौहार्द एवं आपसी भाई-चारे को बढ़ाने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण त्यौहार है।

आनंद कुमार सिन्हा ने कहा कि भारतीय संस्कति में रक्षा बंधन के त्योहार को बेहद खास माना जाता है। यह पर्व भाई और बहन के पवित्र और अटूट रिश्ते का प्रतीक है।भाई-बहन के अटूट बंधन, प्यार, विश्वास, त्याग और समर्पण का प्रतीक एव पावन पर्व रक्षा बंधन के अवसर पर सभी को बहुत-बहुत बधाई और हार्दिक शुभकामनाएं।

पवन सक्सेना ने कहा, राखी का यह पर्व भारतीय संस्कृति में पारिवारिक मूल्यों और सामाजिक सम्बंधों की प्रगाढ़ता के महत्त्व को रेखांकित करता है। उन्होंने कहा, न मांगे वो धन और दौलत, न मांगे उपहार! चाहत बहन की बस इतनी कि बना रहे प्यार!

शिवानी गौड़ ने कहा, मेरी नजर में रक्षाबंधन सिर्फ एक धागे का सूत्र नहीं है, यह एक विश्वास है, एक आस्था है जो हर बहन की अपने भाई के लिए होती है कि वह हर मुसीबत में अपनी बहन की रक्षा करेगा और भाई भी इस बात को पूरी तरह से निभाता है। मैं इस रक्षाबंधन पर ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि वह हर भाई को स्वस्थ सकुशल और खुश रखे।

 

कार्यक्रम के दौरान सुभाषिणी स्वरूप, शीला गौड़़, आलोक अवरिल, रूचिता सिन्हा, मृणालिनी अखौरी, अनुराग सक्सेना, गीता कुमारी, रवि शेखर सिन्हा, रजत नाथ, अपूर्वा सक्सेना, स्वेच्छा वर्मा, कुंदन तिवारी, रूपाली गांगुली,  नूतन सिन्हा,तन्वी माथुर, और रश्मि सिन्हा ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति से लोगों को मंत्रमुग्ध  कर दिया। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन श्रीमती रागिनी रंजन ने दिया।

Suresh Bhanushali concocting the Music Industry

The great surreal mind behind the creation of this wheedling yet utilitarian company Mr. Suresh Bhanushali says “While we were planning to make this enterprise we wanted to completely omit the discrimination. Fair or dark, Upper class or lower class, Rich or poor, insider or an outsider all you need is talent and we ourselves will provide you everything else that you need to succeed.” He along with Mr. Rajiv John Sauson and Mr. Amit k. Shiva wants this company to be discrimination less, dedicated, benevolent and success oriented. A place filled with opportunities and positivity a hub of blooming artists.

It all began as an act of kindness, an initiative to provide, an enterprise which wants to give a voice to the ones who deserve to be heard. Photofit Entertainment was born out of pure appreciation for the things the founders loved and wanted to support. It was a revolution in itself welcoming the outsiders and the newcomers with open arms and giving them the chance to showcase what they are made of. Mr. Rajiv John Sauson and Mr. Amit K. Shiva are the pillars of the company and on who’s extremely responsible arms has Mr. Suresh entrusted his work.

Music gives a soul to the universe, wings to the mind, flight to the imagination and life to everything. They think everyone should be given an equal opportunity to all individuals to showcase talent. So Mr. Suresh Bhanushali, Mr. Rajiv John Sauson and Mr. Amit k. Shiva created a platform where all the musicians, singers, actors, choreographers can come here from different places can collaborate.

They look forward to taking this company and all the new comers to a whole new dimension of success and surprise the audiences by giving them phenomenal content which leaves them with no option but to ask for more.

Beeshal D Bhattarai Musical Artists His Journey To Music World And Digital Marketing...

Beeshal D Bhattarai has always been a popular person in the Musical industry because of the strategies and tactics that he uses while working and in the process of earning money and he is known as an underground Nepalese Musical Artist. It is not about how we on the cash, it’s about the type of labour that we do. Profit is something which is common to all kinds of work, the only variation being less or more. However, the Musical industry is a type of job which requires a lot of motivation, and just the motivation to earn is not enough.

Beeshal D Bhattarai, The Young Nepalese Entrepreneur, Musical Artist, And YouTuber says with the advancements and changing trends in digital technology, digital marketing is expected to take giant strides in the future.

The entire brand marketing game has changed drastically over the years, so that media consumption, which works as a major factor to establish the presence of any brand, product, or individual.

Basically, Beeshal D Bhattarai is an popular and well established Nepalese Musical Artist And YouTuber. Very soon, he will be one of the top Musical Artist In Nepal.

He continues to work hard on his dreams, which are bound to come true very soon.

https://m.imdb.com/name/nm12647629/